What is Artificial Intelligence in Hindi – Tutorial 2021

वर्तमान समय में Automatic Machines का उपयोग बहुत ज्यादा होने लगा है और इनमें जिस तकनीकी का इस्तेमाल होता है उसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या कृत्रिम बुद्धिमत्ता कहते हैं| ऐसे में क्या आप जानते हैं की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) क्या है (What is Artificial Intelligence in Hindi)? जब से कंप्यूटर का आविष्कार हुआ है तब से मनुष्यों ने इसका प्रयोग अपने काम को आसान बनाने के लिए करने लगे हैं जिसके कारण हमें उनपर ज्यादा Depend होना पड़ता है|

इंसानों ने इन मशीनों की Capability को काफी हद तक बढ़ा दिया है जैसे की उनकी Speed तथा उनके कार्य करने की क्षमता| जिसके फलस्वरूप ये हमारे काम को बहुत ही कम समय में करते हैं और हमारे समय की बचत होती है|

ऐसे में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की बात करें तो आर्टिफिशियल मतलब कृत्रिम तथा इंटेलिजेंस मतलब बुद्धिमत्ता| “एक ऐसा Intelligent Machine जो की मनुष्य के द्वारा बनाया गया हो तथा खुद सोचने की क्षमता रखता हो|

जैसे आपने हिंदी फिल्म ‘रोबोट’ देखी होगी| इस फिल्म में दर्शाया गया चिट्टी नाम का रोबोट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का बेहतरीन उदाहरण है| इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएँगे की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या होता है और हम मनुष्यों के लिए इतना जरुरी क्यों है?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है (What is Artificial Intelligence in Hindi)

Artificial intelligence in hindi

कंप्यूटर विज्ञान में AI का फुल फॉर्म है Artificial Intelligence. वैसे तो इन्टरनेट पर बहुत लोग सर्च करते हैं  “Artificial Intelligence Meaning in Hindi” इसका हिंदी में अर्थ है – कृत्रिम होशियारी या कृत्रिम दिमाग| यह एक ऐसा Simulation है जिससे मशीनों को इंसानी समझ दिया जाता है या ऐसे कहे की उनके दिमाग को इतना विकसित किया जाता है की वह इंसानों की तरह सोच सके तथा काम कर सके|

जैसे मनुष्य के अन्दर एक ऐसी Intelligence शक्ति है जिसकी सहायता से वह किसी भी Problem को पहले सीखती है फिर उसे Process करती है तथा Finally Decision लेकर उसे Solve करती है| ठीक उसी प्रकार Automatic Machines और Robots के अन्दर भी Intelligence विकसित किया जाता हैं जिससे वह बेहतर काम कर सकें|

AI के उदाहरण (Artificial Intelligence Examples)

आज के समय में AI एक चर्चा का विषय है जो की Technology और Business के Field में बहुत ही पापुलर है| कई विशेषज्ञों तथा उद्योग के जानकारों का मनना है की AI या Machine Learning हमारा भविष्य  है| अगर हम अपने चारों तरफ देखें तो टेक्नोलॉजी के विकास साथ किसी न किसी तरीके से AI से जुड़े हुए हैं|

बहुत से कंपनियों ने हाल ही में मशीन लर्निंग पर काफी निवेश किया है जिससे बहुत सारे AI Products और Apps हमारे लिए उपलब्ध हैं|आज हम आपको इस्तेमाल होने वाले कुछ ऐसे AI Apps के बारे में बताएंगे जिनका उपयोग हम रोजाना करते हैं जिससे आप और अच्छी तरह समझ पाएंगे|

1. Siri :

Artificial Intelligence in Hindi
Siri Virtual Assistant

शायद आपने Siri के बारे में सुना होगा जो की Apple द्वारा पेश किया गया सबसे पोपुलर Virtual Assistant है| फिलहाल यह सिर्फ iPhone और iPad के लिए उपलब्ध है| यह AI का सबसे बेहतरीन उदाहरण है इसके लिए बस आपको ‘Hey Siri’ बोलना पड़ता है और वह आपके लिए मेसेज भेज सकता है, फ़ोन कॉल कर सकता है, इन्टरनेट पर इनफार्मेशन ढूंढ सकता है, टाइमर सेट करने जैसे कामों में आप की सहायता कर सकता है|

यह सबसे अनुकूल Voice Activated कंप्यूटर है जो की आप की भाषा और सवालों को समझने के लिए मशीन लर्निंग तकनीकी का प्रयोग करती है| इससे संबधित डिवाइस Google Assistant और Alexa भी है जो की सामान्य कार्य के लिए प्रयोग किये जाते है|

2. Google Map :

वैसे तो गूगल बहुत सारे क्षेत्र में AI Technology का प्रयोग करता है लेकिन Google Map में AI का सबसे अच्छा इस्तेमाल हुआ है| गूगल मैप हमको किसी भी जगह का रास्ता बताने के लिए AI मैपिंग की मदद से अपने Algorithms का प्रयोग करके सही रूट को बताती है| Google ने अपने Voice Assistant में सुधार करके तथा Real Time में वास्तविक नक़्शे बनाकर AI की तरफ आगे बढ़ने की योजना बनाई है| आने वाले समय में 5G Technology की मदद से Google AI को Develop किया जायेगा तथा User Interface को ध्यान में रखते हुए Responsive भी बनाया जायेगा|

3. Tesla :

Artificial Intelligence in Hindi
Tesla AI Based Vehicle

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस न केवल स्मार्टफ़ोन की तरफ बल्कि Automobile की ओर भी बढ़ रहा है| आप ने Tesla Car के बारे में तो सुना ही होगा| यह अब तक की सबसे बेहतरीन Automobiles में से एक है जो की Electric Vehicles बनाती है तथा Self Driving Car जैसे पूर्ण तकनीकी फीचर वाले Vehicles पर काम कर रही है| आने वाले समय में और भी स्मार्ट हो जाएगी| Tesla कार AI Technology का प्रयोग करके ऑटोमोबाइल के क्षेत्र में विकास लाने का प्रयत्न कर रही है|

AI के बहुत से ऐसे उदाहरण हैं जिनका प्रयोग हम प्रतिदिन करते रहते हैं जैसे – Nest जो की एक गूगल का ही AI System है| इसे ऐसे Algorithm से डिजाईन किया गया है जिससे की वह साप्ताहिक तापमान का पता पहले ही लगा लेता है तथा Automatic ऊर्जा की बचत भी करता है|

Echo आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का एक बेहतरीन उदाहरण है जो की Amazon द्वारा लांच किया गया है| जो आपके सवालों के जबाब आसानी से दे सकता है| जैसे – Audio Books पढ़ना, मौसम की जानकारी तथा Sports Score की जानकारी| Echo में बड़े बदलाव किये जा रहे हैं जिससे उसे और भी बेहतर बनाया जा सके|

AI का इतिहास

अमेरिकन कंप्यूटर Scientist तथा AI के जनक – John McCarthy ने दुनिया को सबसे पहले आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) के बारे में बताया| AI के क्षेत्र में विकास करने के लिए उन्होंने 1956 में एक सम्मलेन “The Dartmouth Summer Research Project on Artificial Intelligence” का आयोजन किया| जिसमें Machine Intelligence में रूचि रखने वाले सभी लोग भाग ले सकते थे| इस सम्मलेन का मकसद लोगों की प्रतिभा विशेषज्ञता को आकर्षित करना था ताकि वह इस काम में McCarthy की मदद कर सकें|

AI के इतिहास में सन 1958 में John McCarthy ने LISP Language का निर्माण किया जिसे जल्द ही बहुत से AI Researchers द्वारा उपयोग में लाया गया और इसे आज भी उपयोग में लाया जाता है|कुछ वर्षों के बाद AI के क्षेत्र में पहली सफलता मिली जब 1959 में Newell और Simon द्वारा General Problem Solver (GPS) नामक एक प्रोग्राम बनाया गया जिसकी मदद से सामान्य ज्ञान की समस्याओं का अधिक से अधिक समाधान किया जा सकता था|

AI के प्रकार (Types of Artificial intelligence in Hindi)

आज के तकनीकी युग में मशीनों का प्रभावी ढंग से कार्य करना ही मानव की सबसे बड़ी उपलब्धि है| AI के द्वारा मशीनों को और भी बेहतर बनाया जा रहा है| इसे मुख्यतः दो भागो में बाँटा गया है|

1. Weak AI

Weak AI जिसे Narrow AI के नाम से भी जाना जाता है| इस AI System के Algorithm को इस प्रकार से Develop किया गया है की यह केवल एक Particular Task को ही कर सके| यह सभी प्रकार के Task को करने में सक्षम नहीं होता है| जैसे – Amazon के द्वारा बनाया गया Alexa (Virtual Personal Assistant) जो की Weak AI का बेहतरीन उदाहरण है|

2. Strong AI

Strong AI को General Artificial Intelligence भी कहा जाता है| इसे इस प्रकार से Develop किया जाता है जिसमें मशीनों की बौद्धिक क्षमता कार्यात्मक रूप से मनुष्यों के बुद्धिमत्ता के बराबर हो| यह एक ऐसा AI System होता है जो की इंसानों की तरह सोच कर कार्य कर सकता है| फिलहाल इसका उदाहरण मौजूद नहीं है क्योंकि Strong AI को अभी Develop किया जा रहा है|

Arend Hintze जो की Michigan State University में Intergrative Biology & Computer Science and Engineering असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं जिन्होंने AI को चार भागों में बाँटा है|

1. Reactive Machines (प्रतिक्रियाशील मशीनें)

यह एक प्रकार की Basic Machine होती है क्योंकि इस प्रकार के मशीनों के पास Memory नहीं होती| जिससे किसी कार्य को करने के लिए अपने Past अनुभवों का उपयोग नहीं करती है| यह अनुमानित सिद्धांत पर कार्य करती है| IBM Company का Deep Blue जो की Reactive AI Machine का उदाहरण है जिसने सन 1997 में शरतंज ग्रैंडमास्टर Garry Kasparov  को हराया था|

2. Limited Memory (सीमित स्मृति)

इस प्रकार का AI System कार्य करने के लिए अपने Past Experiences का उपयोग करके भविष्य में होने वाली समस्याओं को हल करती हैं| Image Recognition AI जो की हर स्मार्टफ़ोन में होता हैं, लिमिटेड मेमोरी का उदाहरण है| जिसमे हजारों Images को लेबल के अनुसार Feed किया जाता है ताकि स्कैन करने वाली वस्तुओं का नाम दिया जा सके| जब भी AI के द्वारा किसी Reference Image को स्कैन किया जाता है तो Feed किये गये Images के अनुसार प्रस्तुत करता है|

यह अपने Learning Experience के आधार पर बहुत ही सटीकता के साथ Images को प्रस्तुत करता है|

3. Theory of Mind (मस्तिष्क का सिद्धांत)

यह एक ऐसा AI System होता है जो विश्वास, लोगों की भावना, विचार, उम्मीद तथा सामाजिक रूप से बात करने में सक्षम हो| वैसे तो इस प्रकार का AI अभी मौजूद नहीं है लेकिन मैं आपको उदाहरण के लिए समझाता हूँ| यदि आपने हॉलीवुड मूवी Iron Man Back 2008 देखी है तो उसमें JARVIS नामक AI System को दर्शाया गया है जिसके अन्दर सभी प्रकार के Emotions होते हैं| इसे Theory of Mind का अच्छा उदाहरण माना जा सकता है|

4. Self Awareness (आत्म जागरूकता)

इसके अंतर्गत AI System की खुद की Self Awareness होती है| एक ऐसा मशीन जो अपने Cureent State को समझता है तथा उसी Information का इस्तेमाल दुसरे की Feel को समझने के लिए करता है|आसान शब्दों में आप इसे एक तरह का Human भी कह सकते हैं| फ़िलहाल इस प्रकार का AI अभी तक मौजूद नहीं है| अगर भविष्य में यह मुमकिन हुआ तो मानव के लिए सबसे बड़ी उपलब्धि होगी|

AI के लक्ष्य

आज हम AI के कुछ लक्ष्यों के बारे में जान लेते हैं जिसे हासिल करके यह तकनीकी जल्द ही हम तक पहुँच जाएगी|

  • Expert System बनाना : AI का प्रथम लक्ष्य है की एक ऐसा System तैयार करना जो Human Intelligence की तरह Behavior को प्रदर्शित कर सके, किसी भी समस्या को खुद से Decision लेकर हल कर सके और इसके साथ अपने Users को सलाह दे सके| इस दिशा में AI ने कुछ उपलब्धियां हासिल की हैं| पिछले कुछ वर्षों में एक Female AI Robot बनाया गया है जिसका नाम है Sophia. इसके पास कुछ हद तक Decision Making की क्षमता है, यह आपके किसी भी सवालों के जबाब आसानी से दे सकती है|इसके अलावा बहुत से AI Based स्मार्ट डिवाइस भी उपलब्ध हैं जिनका हम उपयोग करते हैं जैसे – Alexa, Google Assistant, Siri, Echo, Nest etc.
  • कार्य में कुशलता : AI मनुष्यों द्वारा विकसित की गयी एक ऐसी Technology है जो की मानव के निर्देश देने पर कार्य करती है| यह एक ऐसी तकनीकी है जो की मनुष्यों की तुलना में अधिक कुशल, बेहतर तथा कम खर्च में कार्य करती है| इसलिए Business Industries में AI का सबसे ज्यादा प्रयोग किया जा रहा है|

Artificial Techniques क्या है?

Artificial Intelligence in Hindi
AI Technology के लक्ष्य

AI एक ऐसी तकनीकी है जिसका उपयोग हम Information को Organized Way में रख कर बहुत ही आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं| यह तकनीकी संखिकीय और Mathematical मॉडल पर आधारित है जिसका उपयोग कंप्यूटर या मशीनों की गणनाओं को संभव बनाने में किया जाता है| जैसे –

  • AI तकनीकी की मदद से जो भी Information दिया जाता है वह पढ़ने और समझने योग्य होना चाहिए|
  • यदि इस तकनीकी में कोई Error आता है तो उसमें सुधार किया जा सके| यह आसानी से Modify करने योग्य होना चाहिए|
  • इस Techniques को Complex प्रोग्राम के साथ Equip किया जाये तो AI की Speed of Execution को बहुत हद तक बढ़ाया जा सकता है|

AI के Applications

1. AI in Manufacturing

आज के समय में AI बहुत बड़ा Branch हो गया है जिसके अंतर्गत Robotics Process Automation तथा  Actual Robotics भी आती हैं| पिछले कुछ वर्षों में ही AI की Marketing Demand बढ़ गयी है क्योंकि बहुत से Manufacturing Companies इस Technology का इस्तेमाल करके अपने Productivity को बढ़ाना चाहते हैं|

AI Robotics Technology की मदद से Manufacturing Industry अपने Production Rate को बढ़ा रहे हैं जिससे इंसानो द्वारा की गयी गलतियों (Human Error) को बहुत हद तक कम किया जा रहा है तथा मशीनों की मदद से उसी काम को जल्दी और बेहतर किया जा रहा है|

2. AI in Education

AI के द्वारा Education Sector में बहुत मदद मिली है| इसके द्वारा Students के Subject की Monitoring की जा सकती है जिससे किसी भी छात्र के Performance पर नजर रखी जा सके तथा उस छात्र की सही तरीके से मदद की जा सके| आज के समय में Students घर बैठे AI Tutor की मदद से अपने समस्याओं का हल ढूँढ ले रहे हैं जिससे उनका Education में Interest बढ़ रहा है|

3. AI in Healthcare

AI  के माध्यम से Healthcare Industry में बड़ी क्रांति आने वाली है| कंपनियों का यही प्रयास है की AI के मदद से कम लागत में Patients का बेहतर इलाज हो सके| इसलिए हेल्थसेक्टर में Companies AI का प्रयोग हॉस्पिटल्स में कर रही हैं|

IBM Watson एक फेमस हेल्थकेयर तकनीकी है जिसकी मदद से Common बीमारियों का इलाज किया जाता है|

4. AI in Finance

AI की मदद से Finance Sector में काफी लाभ मिल रहा है| पहले Companies को Data Analysis के लिए ज्यादा पैसा खर्च करना पड़ता था| फिलहाल अब ऐसा नहीं है AI की मदद से पैसे और समय दोनों की बचत होती है|

 What is Artificial Intelligence in Computer

AI Computer Science की वह शाखा है जिसके अंतर्गत Robotics Process Automation तथा  Actual Robotics भी आती हैं| Robotics Process Automation की मदद से Highly Repetitive Task को अब मशीनों के द्वारा किया जाता है तथा Actual Robotics को कुछ इस प्रकार से डिजाईन किया जा रहा है की किसी भी समस्या को Identify करके Solve करने में सक्षम हो|

ठीक उसी प्रकार कंप्यूटर के द्वारा सभी प्रकार के गणनाओं को करना, इन्टरनेट पर सर्च करना, Game खेलना, AI Software etc. सभी Computer में AI के लिए एक प्रकार कृत्रिम बुद्धिमत्ता की परिभाषा है|

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के लाभ

AI Based मशीनों की निर्णय लेने की क्षमता के कारण बहुत से फायदे हैं|

1. No Error : AI की मदद से किसी कार्य को बिना किसी त्रुटि के आसानी से किया जा सकता है| इसके लिए Machine को एक बार Information देना होता है जिसके फलस्वरूप मशीन खुद प्रोसेस के अनुकूल Result देती है|

2. 27*7  Availability : AI Based मशीन बिना रुके लगातार कार्य करने में सक्षम होती हैं| इन्हें इंसानों की तरह आराम करने की आवश्यकता नहीं होती है|

3. Digital Assistant : यह एक प्रकार का Virtual Personal Assistant होता है जो की आप की भाषा और सवालों को समझने के लिए मशीन लर्निंग तकनीकी का प्रयोग करती है| इससे संबधित डिवाइस Google Assistant, Siri और Alexa भी है जो की सामान्य कार्य के लिए प्रयोग किये जाते है|

4. Self Driving Car : गूगल और Tesla जैसी कंपनी Self Driving Cars पर काम कर रही हैं जिनमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का प्रयोग किया जा रहा है जिससे की कार दुर्घटनाओं में कमी आयेगी|

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के नुकसान

AI का इस्तेमाल दिनबदिन बढ़ता जा रहा है| हम अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए Artificial Intelligence को Develop करते जा रहे हैं ताकि यह कठिन से कठिन कार्य आसानी से कर सके| AI को Develop करने से इनमें सोचने की क्षमता भी धीरे धीरे बढ़ रही है लेकिन यह हमारे लिए अच्छी बात नहीं है|

वह दिन दूर नहीं जब मनुष्यों से ज्यादा ताकतवर मशीन हम पर हावी हो जायेंगे| ऐसे में मानव समाज को मुसीबतों का सामना करना पढ सकता है| सुनने में थोडा अटपटा लगे लेकिन यह बात बिलकुल सही है| इसलिए मेरा मानना है की AI का इस्तेमाल करते हुए हमें अपने अस्तित्व को खतरे में नहीं डालना चाहिए|

हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिये कि हम AI  को कितना ही Develop कर लें लेकिन कुछ चीजों का Control हमारे पास होना चाहिए ताकि समय आने पर हम उसका सही इस्तेमाल कर सकें और भविष्य में हमें कोई नुकसान न हो|

Conclusion (निष्कर्ष) :

Experts का मनना है की AI भविष्य में कुछ भी करने में सक्षम होगा तथा यह किसी भी काम को इंसानों से बेहतर कर पायेगा| तो देखते हैं की आने वाले समय में Human Life को किस हद तक प्रभावित करता है|

आशा करता हूँ की यह पोस्ट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या कृत्रिम बुद्धिमत्ता क्या है (What is Artificial Intelligence in Hindi) ? आपको पसंद आया होगा तथा दी गयी जानकारी से “AI in Hindi” के सम्बन्ध में काफी मदद मिली होगी|

आप सभी पाठकों से निवेदन है की इस जानकारी को अपने मित्रो के साथ Share करें ताकि इससे सभी को लाभ मिले और लोगों के बीच जागरूकता हो| मुझे आप सभी के सहयोग की आवश्यकता है जिससे की मैं इसी तरह नई नई जानकारी को आप लोगों तक पंहुचा सकूँ|

कृपया अपने विचार तथा सुझावों को हमारे साथ साझा करें| आपको यह लेख कैसा लगा हमें Comment में लिखकर जरुर बताएं जिससे हम अपने गलतियों को सुधार सकें|

धन्यवाद

Default image
Amit Kumar Singh
मैं Amit Kumar Singh, HindiBlogger का Founder & Technical Author हूँ | मैं एक Graduate Engineer हूँ और इस Blog पर हर रोज, Internet, Blogging, Latest Technology से Related एक नया पोस्ट Update करता हूँ | आशा करता हूँ मेरे द्वारा लिखा गया पोस्ट आपको पसंद आएगा |

Subscribe For Updates

Enter your email address below to subscribe to our newsletter

Leave a Reply

Copy link